Friendship Shayari, Agar Mohabbat Ki Hadd 2020?

Friendship Shayari, Agar Mohabbat Ki Hadd Nahin Koi

Hindishayar.info

Friendship Shayari – दोस्ती शायरी

Agar Mohabbat Ki Hadd Nahin Koi,
Toh Dard Ka Hisaab Kyun Rakhoon.

अगर मोहब्बत की हद नहीं कोई,
तो दर्द का हिसाब क्यूँ रखूं।

Anaa Kehti Hai ilteza Kya Karni,
Woh Mohabbat Hi Kya Jo Minnaton Se Mile.

अना कहती है इल्तेजा क्या करनी,
वो मोहब्बत ही क्या जो मिन्नतों से मिले।

Muqammal Na Sahi Adhoora Hi Rahne Do,
Ye Ishq Hai Koi Maqsad Toh Nahi Hai.

मुकम्मल ना सही अधूरा ही रहने दो,
ये इश्क़ है कोई मक़सद तो नहीं है।

Friendship Shayari Wajah Nafraton Ki Talaashi Jaati Hai,

Wajah Nafraton Ki Talaashi Jaati Hai,
Mohabbat Toh Bin Wajah Hi Ho Jaati Hai.

वजह नफरतों की तलाशी जाती है,
मोहब्बत तो बिन वजह ही हो जाती है।

Guftgoo Band Na Ho Baat Se Baat Chale,
Bajron Mein Raho Qaid Dil Se Dil Mile.

गुफ्तगू बंद न हो बात से बात चले,
नजरों में रहो कैद दिल से दिल मिले।

Hai Ishq Ki Manzil Mein Haal Ke Jaise,
Lut Jaye Kahin Raah Mein Saman Kisi Ka.

है इश्क़ की मंज़िल में हाल कि जैसे,
लुट जाए कहीं राह में सामान किसी का।

Naseehat Achchi Deti Hai Duniya,
Agar Dard Kisi Ghair Ka Ho.

नसीहत अच्छी देती है दुनिया,
अगर दर्द किसी ग़ैर का हो।

Friendship Shayari Dil Ki Dhadkan Aur Meri Sadaa Hai Tu,

Dil Ki Dhadkan Aur Meri Sadaa Hai Tu,
Meri Pehli Aur Aakhiri Wafa Hai Tu,
Chaha Hai Tujhe Chahat Se Bhi Barh Kar,
Meri Chahat Aur Chahat Ki Inteha Hai Tu.

दिल की धड़कन और मेरी सदा है तू,
मेरी पहली और आखिरी वफ़ा है तू,
चाहा है तुझे चाहत से भी बढ़ कर,
मेरी चाहत और चाहत की इंतिहा है तू।

Jiske Naseeb Mein Hon Zamane Ki Thhokarein,
Uss BadNaseeb Se Na Sahaaron Ki Baat Kar.

जिसके नसीब मे हों ज़माने की ठोकरें,
उस बदनसीब से ना सहारों की बात कर।

Friendship Shayari Bula Raha Hai Kaun MujhKo

Bula Raha Hai Kaun MujhKo Uss Taraf,
Mere Liye Bhi Kya Koi Udaas BeKaraar Hai.

बुला रहा है कौन मुझको उस तरफ,
मेरे लिए भी क्या कोई उदास बेक़रार है।

 Read more

Leave a Comment